पाकिस्तान के भीतर भारतीय वायुसेना द्वारा किए गए हवाई हमले पर जानिए क्या बोले नवजोत सिंह सिद्धू

पाकिस्तान के भीतर भारतीय वायुसेना द्वारा किए गए हवाई हमले पर जानिए क्या बोले नवजोत सिंह सिद्धू

जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में हुए आतंकी हमले के बाद अपने बयान को लेकर आलोचनाओं का शिकार बने पूर्व भारतीय क्रिकेटर और पंजाब की कैप्टन अमरिंदर सिंह सरकार में कैबिनेट मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू ने एलओसी में भारतीय वायुसेना के एयरस्ट्राइक के बाद ट्वीट कर कहा कि “लोहा लोहे को काटता है, आग आग को काटती है।”

नवजोत सिंह सिद्धू ने ट्वीट कर कहा, “लोहा लोहे को काटता है, आग आग को काटती है। सांप जब डंक मारता है, उसका एंटीडोट विष ही है। आतंकियों का विनाश अनिवार्य है। भारतीय वायु सेना की जय हो, जय हिन्द जय हिन्द की सेना।”

बता दें कि पुलवामा आतंकी हमले पर अपनी प्रतिक्रिया देते हुए कांग्रेस नेता नवजोत सिंह सिद्धू ने कहा था कि, ‘कुछ लोगों की वजह से क्या आप पूरे मुल्क को गलत ठहरा सकते हैं और क्या आप किसी एक इंसान को दोषी ठहरा सकते हैं? उन्होंने यह भी कहा था कि यह हमला कायरता की निशानी है और वह इसकी कड़ी निंदा करते हैं। हिंसा की हमेशा निंदा होनी चाहिए और जिनकी गलती है उन्हें सजा मिलनी चाहिए।’

सिद्धू के इस बयान से कई लोग खफा हैं और सोशल मीडिया पर अपनी नराजगी जताने लगे। इसी बीच, बीजेपी आईटी सेल ने सोशल मीडिया पर #BoycottSidhu और #BoycottSonyTV हैशटैग का भी इस्तेमाल किया। इतना ही नहीं नवजोत सिंह सिद्दू की वजह से सोशल मीडिया पर ‘बॉयकॉट कपिल शर्मा शो’ ट्रेंड भी करने लग गया था।

भारत ने पाकिस्तान में किया हवाई हमला

ऐसा माना जा रहा है कि भारत ने मंगलवार तड़के पाकिस्तान के भीतर हवाई हमले कर कई आतंकवादी शिविरों को निशाना बनाया। सूत्रों ने समाचार एजेंसी पीटीआई को बताया कि भारतीय वायुसेना के विभिन्न लड़ाकू विमानों ने खैबर पख्तूनख्वा प्रांत के बालाकोट में पाकिस्तान स्थित कई आतंकवादी समूहों के शिविरों को सफलतापूर्वक नष्ट कर दिया। अभी तक हमले से हुए नुकसान का आकलन नहीं हुआ है।

पाकिस्तान की सेना ने मंगलवार को आरोप लगाया कि भारतीय वायुसेना ने मुजफ्फराबाद सेक्टर में नियंत्रण रेखा (एलओसी) का उल्लंघन किया है। सेना की मीडिया शाखा अंतर-सेवा जन संपर्क (आईएसपीआर) के महानिदेशक मेजर जनरल आसिफ गफूर ने ट्वीट किया है, ‘भारतीय वायुसेना के विमान मुजफ्फराबाद सेक्टर से घुसे। पाकिस्तानी वायुसेना की ओर से समय पर और प्रभावी जवाब मिलने के बाद वह जल्दीबाजी में अपने बम गिरा कर बालाकोट के करीब से बाहर निकल गए। जानमाल को कोई नुकसान नहीं हुआ है।’

उन्होंने लिखा है, ‘‘भारतीय वायुसेना ने नियंत्रण रेखा का उल्लंघन किया है। पाकिस्तानी वायुसेना ने तुरंत जवाब दिया। भारतीय विमान लौट गए।’’ गौरतलब है कि यह आरोप जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में 14 फरवरी को सीआरपीएफ के काफिले पर हुए जैश-ए-मोहम्मद के आत्मघाती हमले के बाद दोनों देशों में बढ़े तनाव के बीच लगाया गया है। हमले में सुरक्षा बल के 40 जवान शहीद हुए थे।

Categories: India

Related Articles