भारतीय वायुसेना ने खोली अर्नब गोस्वामी के दावों की पोल! जानें क्या है पूरा मामला

भारतीय वायुसेना ने खोली अर्नब गोस्वामी के दावों की पोल! जानें क्या है पूरा मामला

भारतीय वायुसेना के पायलट विंग कमांडर अभिनंदन वर्धमान शुक्रवार (1 मार्च) को अपने देश पहुंचने वाले हैं। पाकिस्तानी वायुसेना से लोहा लेने के दौरान पाक सरजीमीं पर गिरफ्तार होने वाले अभिनंदन को आज पाकिस्तान रिहा करेगा। पाकिस्तान ने विंग कमांडर अभिनंदन को शांति पहल के तहत छोड़ने की गुरुवार (28 फरवरी) को घोषणा की।इसके कुछ ही घंटे पहले भारत ने उन्हें बिना शर्त रिहा करने का कड़ा संदेश दिया था। पाकिस्तान का यह कदम दोनों पड़ोसी देशों के बीच बढ़े तनाव को काफी हद तक दूर करेगा।

बता दें कि बुधवार को भारतीय वायुसेना और पकिस्तान वायुसेना के लड़ाकू विमानों के बीच झड़प के दौरान मिग 21 के गिरने के दौरान पायलट अभिनंदन पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर (पीओके) में उतर गए थे। खबरों के मुताबिक, विंग कमांडर ने अपने विमान के गिरने से पहले पाकिस्तान के एफ- 16 को मार गिराया था। इसके एक दिन पहले, भारतीय वायुसेना ने मंगलवार सुबह पाकिस्तान के बालाकोट में जैश ए मोहम्मद के प्रशिक्षण शिविर पर बम गिराए थे।

अर्नब गोस्वामी के दावों की खुली पोल

गुरुवार एक प्रेस कॉन्फेंस के दौरान तीनों सेनाओं के वरिष्ठ अधिकारियों ने भारत और पकिस्तान के बीच हाल में हुए झड़पों को लेकर असाधारण खबर दी। एक महत्वपूर्ण बयान में भारतीय वायु सेना ने मंगलवार सुबह पाकिस्तान में एयर स्ट्राइक के दौरान आतंकियों के मारे जाने की संख्या को लेकर टीवी चैनलों द्वारा किए गए दावों का खंडन किया। बालाकोट में जैश ए मोहम्मद के ठिकाने को निशाना बनाने से नुकसान के बारे में एक सवाल के जवाब में भारतीय वायु सेना के एबीएम आर जी के कपूर ने कहा कि हमारे पास साक्ष्य हैं कि जो करना चाहते थे, जो लक्ष्य था, हमने उसे हासिल किया है।

बता दें कि रिपब्लिक टीवी के संपादक व एंकर अर्नब गोस्वामी, टाइम्स नाउ सहित तमाम अंग्रेजी-हिंदी न्यूज चैनलों ने दावा किया था कि भारतीय जवानों ने मंगलवार को तड़के बड़ी कार्रवाई करते हुए पाकिस्तान स्थित आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद के सबसे बड़े शिविर को तबाह कर दिया, जिसमें 300 से अधिक की संख्या में आतंकवादी और उनके प्रशिक्षक मारे गए। हालांकि, भारत सरकार ने हताहतों के दावों पर कोई टिप्पणी नहीं की थी। अब वायुसेना का यह बयान बीजेपी समर्थक चैनलों के एंकरों को लिए शर्मसार करने वाला है।

एवीएम कपूर ने कहा कि पाकिस्तान वायुसेना के विमानों ने हमारे सैन्य प्रतिष्ठानों को निशाना बनाने की कोशिश की लेकिन उससे हमारे किसी भी रक्षा प्रतिष्ठान को कोई नुकसान नहीं पहुंचा। उन्होंने कहा कि पाकिस्तान ने झूठ बोला कि एफ-16 का इस्तेमाल नहीं किया गया जबकि इस बात के पर्याप्त प्रमाण है। पाकिस्तान के पास केवल एफ..16 ही ऐसा विमान है जिसमें एमरॉन मिसाइल लगाया जा सकता है और एमरॉन मिसाइल के टुकड़े राजौरी के पूरब में भारतीय क्षेत्र में मिले हैं। इसके अलावा विमान के इलेक्ट्रानिक सिग्नेचर के मिलान से भी इसकी पुष्ठि हुई है।

वायुसेना के अधिकारियों से पूछा गया कि क्या भारतीय वायु सेना ने पाकिस्तान द्वारा विंग कमांडर अभिनंदन की रिहाई को एक अच्छा संकेत मानता है? इस पर भारतीय वायुसेना ने गुरुवार को कहा कि उसे खुशी है कि पाकिस्तान द्वारा पकड़े गए विंग कमांडर अभिनंदन कल घर लौटेंगे और इसे सद्भाव के संदेश के रूप में पेश किए जाने को खारिज किया, साथ ही जोर दिया कि यह जिनीवा संधि के अनुरूप है।

वायुसेना उप प्रमुख एयर वाइस मार्शल आर जी के कपूर ने संवाददाताओं से कहा, ‘‘हमें खुशी है कि अभिनंदन कल मुक्त हो जायेंगे और हम उनके लौटने को लेकर आशान्वित हैं।’’ उन्होंने कहा कि अभिनंदन जिस मिग 21 विमान को उड़ा रहे थे, वह हवाई संघर्ष के दौरान क्रैश हो गया और इस क्रम में पाकिस्तान के एफ..16 विमान को मार गिराया गया। उन्होंने कहा कि वह सुरक्षित बाहर निकलने में सफल रहे लेकिन उनका पैराशूट पाकिस्तान की ओर बढ़ गया और तब से पाकिस्तान में हैं।

भारत ने दिया पाक अभियान में एफ-16 इस्तेमाल किए जाने का सबूत

भारतीय वायुसेना (आईएएफ) ने गुरुवार को इस बात का सबूत दिया कि बुधवार को पाकिस्तान द्वारा जम्मू-कश्मीर स्थित भारत के सैन्य ठिकानों को निशाना बनाए जाने के हवाई हमले में लड़ाकू विमान एफ-16 का इस्तेमाल किया गया। भारत ने निर्णायक सबूत के तौर पर एएम-आरएएएम मिसाइल का मलबा पेश करते हुए कहा कि बुधवार की सुबह हवाई मुठभेड़ में एफ-16 के एक विमान को मार गिराया गया।

इस हवाई मुठभेड़ में भारत को एक मिग-21 विमान गंवाना पड़ा। इसके एक दिन बाद भारतीय सेना के तीनों अंगों-थल सेना, नौसेना और वायुसेना- की संयुक्त वार्ता में भारत ने पाकिस्तानी हमले का सबूत दिया। एयर वाइस मार्शल आर.जी.के. कपूर ने कहा कि पाकिस्तान भारतीय सैन्य ठिकानों को निशाना बनाने में एफ-16 के इस्तेमाल को लेकर झूठ बोल रहा है।

एफ-16 इस्तेमाल किए जाने का एक और सबूत देते हुए कपूर ने कहा, “आईएएफ आसानी से पता लगा सकता है कि उसके हवाई क्षेत्र में कौन सा लड़ाकू विमान उड़ रहा है।” उन्होंने कहा कि हर विमान का एक खास इलेक्ट्रॉनिक संकेत होता है और आईएएफ द्वारा मिलान किए गए संकेत से खुलास होता है कि पाकिस्तानी अभियान में एफ-16 विमानों का इस्तेमाल किया गया था।

वहीं, प्रेस कॉन्फेंस में मौजूद भारतीय नौसेना के रियर एडमिरल दलवीर सिंह गुजराल ने कहा कि वह समुद्र में पाकिस्तान के किसी भी दुस्साहस से निपटने के लिए पूरी तैयारी कर चुकी है। दूसरी ओर, सेना के मेजर जनरल एस एस महाल ने कहा कि तनाव पाकिस्तान की ओर से बढ़ाया गया है, दुश्मन यदि उकसाता है तो भारत किसी भी स्थिति से निपटने के लिए तैयार है।

उन्होंने कहा कि जब तक पाकिस्तान आतंकवाद को समर्थन करता रहेगा हम उनके आतंकी शिविरों को निशाना बनाएंगे।उन्होंने यह भी कहा कि पिछले दो दिनों में संघर्षविराम का 35 बार उल्लंघन किया गया है। बता दें कि पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने गुरुवार को अपनी संसद में कहा कि शांति के संदेश के तौर पर भारतीय पायलट अभिनंदन को कल रिहा कर दिया जाएगा

Categories: India