जिग्नेश मेवाणी बोले- काले चोर को वोट दे देंगे, लेकिन संघ-बीजेपी को नहीं

जिग्नेश मेवाणी बोले- काले चोर को वोट दे देंगे, लेकिन संघ-बीजेपी को नहीं

गुजरात के निर्दलीय विधायक और दलित नेता जिग्नेश मेवाणी ने शुक्रवार को मोदी सरकार को जमकर निशाने पर लिया। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी के सफाईकर्मियों के पैर धो देने से लोगों को ऐसा लग रहा है कि देश में छुआछूत का मुद्दा ही खत्म हो गया है। देश में आज भी दलित लोग दूसरों का मल उठाने को मजबूर हैं। देश का कानून आज भी नहीं बदला है। जिग्नेश ने कहा कि दलित समाज के लोग लंबे समय से भीमा-कोरेगांव को सेलिब्रेट कर रहे हैं लेकिन आज भी उनमें शामिल हुए लोगों को नक्सली बताया जा रहा है।

इंडिया टुडे के कार्यक्रम में बोलते हुए मेवाणी ने कहा, ‘ऐसे में एक बात तो तय है कि 2019 के चुनाव में दलित किसी काले चोर को वोट दे देंगे पर संघ-बीजेपी वालों को नहीं देंगे। उन्होंने कहा कि मंगल पर पानी की गुंजाइश है या नहीं इसके लिए मशीनें बनाई की जा रही है, रिसर्च की जा रही है लेकिन गटर में किसी को ना घुसने पड़े उसके लिए हमारे देश की सरकार कुछ नहीं कर रही है। मेवाणी ने कहा कि मैं इस मुद्दे को गुजरात की विधानसभा में भी कई बार उठा चुका हूं पर किसी ने भी मेरी बात नहीं सुनी।

बंत सिंह बोले जब चुनाव आता है तो बंटती है शराबः दशकों से दलितों की समस्याओं को गीतों के जरिए दुनिया के सामने रखने वाले पंजाब के बंत सिंह ने कहा, ‘हमारी आवाज उठाने से बदलाव हुआ है। इंसान के लिए पैसे नहीं उसका सम्मान सबसे बड़ा होना चाहिए। जैसे ही समाज में कुछ बदलाव शुरू होता है तो चुनाव आ जाता है। लोगों को लुभाने के लिए शराब बंटती है। मोदी ने कहा था कि हम किसानों को दोगुनी लागत देंगे, बेरोजगारों को नौकरी देंगे, लेकिन पिछले पांच सालों में ऐसा कुछ भी नहीं हुआ है।’ बता दें कि बंत सिंह पंजाब और हरियाणा के देहाती इलाकों में खासे लोकप्रिय हैं।

Courtesy: .jansatta

Categories: India

Related Articles