मेरठः इनकम टैक्स कमिश्नर प्रीता ने छोड़ी नौकरी, ज्वॉइन की कांग्रेस

मेरठः इनकम टैक्स कमिश्नर प्रीता ने छोड़ी नौकरी, ज्वॉइन की कांग्रेस

इनकम टैक्स डिपार्टमेंट की प्रिंसिपल कमिश्नर प्रीता हरित ने कांग्रेस पार्टी का दामन थाम लिया. भारतीय राजस्व सेवा (IRS) की अधिकारी हरित ने प्रिंसिपल इनकम टैक्स कमिश्नर पद से इस्तीफा देने के बाद बुधवार को कांग्रेस पार्टी ज्वॉइन किया. उत्तर प्रदेश कांग्रेस के चीफ राज बब्बर ने प्रीता हरित को पार्टी में शामिल कराया. प्रीता हरित उत्तर प्रदेश के मेरठ में इनकम टैक्स डिपार्टमेंट में बतौर प्रिंसपल कमिश्नर तैनात थीं.

प्रीता हरित का इस्तीफा स्वीकार कर लिया गया है. बहुजन सम्यक संगठन की संस्थापक हरित का जन्म हरियाणा के पलवल में हुआ था. उन्होंने 22 साल की उम्र में सिविल सर्विस की परीक्षा पास कर ली थी. प्रीता हरित ने कांग्रेस पार्टी उस समय ज्वाइन की है, जब लोकसभा चुनाव के लिए सियासी घमासान जारी है.

इससे पहले 10 मार्च को मुख्य चुनाव आयुक्त सुनील अरोड़ा ने लोकसभा चुनाव की तारीखों का ऐलान कर दिया था. इसके तरह उत्तर प्रदेश में सभी सात चरणों में लोकसभा चुनाव के लिए मतदान होंगे. पहले चरण के लिए 11 अप्रैल और आखिरी चरण के लिए 19 मई को मतदान होंगे. इसके बाद 23 मई को एक साथ चुनाव के नतीजे आएंगे. उत्तर प्रदेश में लोकसभा की 80 सीटे हैं.

आपको बता दें कि साल 2014 के लोकसभा चुनाव में भारतीय जनता पार्टी ने 80 में से 71 सीटों पर जीत दर्ज की थी. इसके अलावा एनडीए में बीजेपी की सहयोगी अपना दल ने भी दो सीटें जीती थी. उत्तर प्रदेश में मिली शानदार जीत के दम पर भारतीय जनता पार्टी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में केंद्र में सरकार बनाई थी. हालांकि इस बार उत्तर प्रदेश में बीजेपी को कड़ी चुनौतियों का सामना करना पड़ सकता है.

उत्तर प्रदेश में भारतीय जनता पार्टी को हराने के लिए समाजवादी पार्टी (सपा) और बहुजन समाज पार्टी (बसपा) ने गठबंधन किया है. हालांकि इस गठबंधन में अभी तक कांग्रेस शामिल नहीं हुई है. पहले यूपी में सपा-बसपा ने गठबंधन से कांग्रेस को दूर रखा गया था, लेकिन जब कांग्रेस ने प्रियंका गांधी वाड्रा को चुनाव मैदान में उतारा, तो पूरा सियासी गणित ही बदल गया.

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने लोकसभा चुनाव के लिए अपनी बहन प्रियंका गांधी वाड्रा को पार्टी का महासचिव बनाया है. साथ ही उत्तर प्रदेश पूर्व का प्रभार सौंपा है. बताया जा रहा है कि प्रियंका गांधी वाड्रा के चुनाव मैदान में उतरने के बाद से सपा-बसपा गठबंधन कांग्रेस को अपने साथ लाने की कोशिश में है. हालांकि सपा-बसपा गठबंधन जितनी सीटें देना चाह रहा है, उससे कांग्रेस संतुष्ट नहीं हैं. लिहाजा कांग्रेस ने यूपी में अपने दम पर लोकसभा चुनाव लड़ने का ऐलान किया है.

इसी कड़ी में प्रियंका गांधी वाड्रा उत्तर प्रदेश में ताबड़तोड़ दौरे कर रही हैं. अभी उन्होंने प्रयागराज से बनारस तक बोट यात्रा की थी. इस बीच उन्होंने लोगों से भी संवाद किया और बीजेपी सरकार पर जमकर हमला बोला. वाराणसी पहुंचकर प्रियंका गांधी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर भी सीधा वार किया. उन्होंने कहा कि पीएम मोदी ने साल 2014 में जितने वादे किए थे, उनको पूरा नहीं किया.

Courtesy: aajtak

Categories: Politics