‘भाभी जी घर पर हैं’ सीरियल भी हुआ ‘भक्त’! बिना किसी डिस्कलेमर के मोदी सरकार की योजनाओं का कर रहा प्रचार, ट्विटर पर भड़के लोग

‘भाभी जी घर पर हैं’ सीरियल भी हुआ ‘भक्त’! बिना किसी डिस्कलेमर के मोदी सरकार की योजनाओं का कर रहा प्रचार, ट्विटर पर भड़के लोग

आगामी लोकसभा चुनाव जीतने के लिए केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार और बीजेपी अपनी उपलब्धियां गिनाने में कोई भी माध्यम नहीं छोड़ रही है। भारत के सबसे पॉपुलर एंटरटेनिंग चैनल जी टेलीविजन ग्रुप की स्वामित्व वाली एंड टीवी पर कुछ ऐसे शो प्रसारित हो रहे हैं, जिसमें प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की छवि और केंद्र की बीजेपी सरकार द्वारा शुरू की गई योजनाओं को एक योजनाबद्ध तरीके से बढ़ा-चढ़ाकर दिखाया जा रहा है। 

सबसे हैरानी की बात यह है कि लोकसभा चुनाव 2019 के मद्देनजर देशभर में मॉडल कोड ऑफ कंडक्ट यानी आचार संहिता लागू होने के बावजूद मोदी सरकार की इन योजनाओं से संबंधित आंकड़ों को बिना किसी अस्वीकरण (डिस्क्लेमर) के खुल्लम खुल्ला दर्शकों के सामने पेश कर उन्हें बीजेपी की तरफ आकर्षित करने की कोशिश की जा रही है। ट्विटर पर लोग इसकी जमकर आलोचना कर रहे हैं।

लोगों का आरोप है कि टीवी का पॉपुलर कॉमेडी सीरियल ‘भाभी जी घर पर हैं’ सीरीयल के टेलीकास्ट शो में केंद्र की मौजूदा मोदी सरकार से जुड़ी योजना ‘स्वच्छ भारत अभियान’ और ‘प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना’ सहित अन्य योजनाओं को बिना किसी डिस्कलेमर के बढ़ा-चढ़कर दिखाया जा रहा है। ट्विटर पर @Victimgames नाम के एक यूजर द्वारा सीरियल का वीडियो ट्वीट करने के बाद यह मामला प्रकाश में आया।

यूजर ने एक के बाद एक ‘भाभी जी घर पर हैं’ का कई वीडियो क्लिप ट्वीट किए हैं। इस वीडियो में सीरियल के मशहूर किरदार ये बता रहे हैं कि मौजूदा मोदी सरकार के आने के बाद देश भर में अब तक 9 करोड़ से ज्यादा शौचालयों का निर्माण किया जा चुका है। वीडियो में किरदार दावा करते दिख रहे हैं कि पीएम मोदी के स्वच्छ भारत अभियान की वजह से अब कोई भी व्यक्ति खुले में शौच करने को मजबूर नहीं है।

सीरीयल में लेखक ने बड़ी चालाकी से पीएम नरेंद्र मोदी का नाम लिए बगैर बीजेपी के उद्देश्य को पूरा करने की पूरी कोशिश की है। सीरियल में किरदार कहता है, ”जैसे हमारी आज की सरकार (मोदी सरकार) पूरे जोश और खरोश से लगी हुई है कि भारत की एकता और अडखंडता को खतरा न पहुंचे। स्वच्छता अभियान की बातें कर रहे हैं। आज एक कर्मठ, सुशील, ज्ञानी और अतुल्य पुरूष की वजह से हम स्वच्छता के वातावरण में सांस ले रहे हैं।”

वहीं, इस सीरियल के दूसरे वीडियो में ‘प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना’ के बारे में प्रचार-प्रसार किया गया है। इसमें किरदार बता रहा है कि किस तरह देश के पांच करोड़ परिवार को इस उज्जवला योजना से लाभ पहुंचेगा और साथ में एक लाख लोगों को रोजगार मिलेगा। वीडियो में महिला किरदार कहती है, “भारत सरकार ने एक उज्जवला योजना शुरू की है। जिसके तहत पांच करोड़ लोगों के घरों तक एलपीजी कनेक्शन पहुंचने का वादा किए हैं और इस योजना के तहत एक लाख लोगों को रोजगार भी मिलेगा।”

यूजर के मुताबिक यह दोनों एपिसोड चार और पांच अप्रैल को टेलीकास्ट किया गया था। सोशल मीडिया पर लोगों ने सीरियल के निर्माताओं, निर्देशकों और चैनल पर मोदी सरकार का प्रचार करने का आरोप लगाते हुए नाराजगी व्यक्त की है। लोगों का कहना है कि सीरियल में ‘मोदी है तो मुमकिन है’ नारे के साथ प्रधानमंत्री की छवि चमकाने की कोशिश की गई है। यूजर्स ने चैनल पर बीजेपी का प्रचार करने का आरोप लगाए हैं।

बता दें लोकसभा चुनाव 11 अप्रैल से शुरू हो रहे हैं और 19 मई को खत्म हो रहे हैं। इसके अलावा वोटों की गिनती 23 मई को होगी। जानकार इस एपिसोड को चुनाव आचार संहिता का उल्लंघन करार दिया है।

Categories: India

Related Articles