VIDEO: कांग्रेस का दावा- नोटबंदी के बाद मोटे कमीशन पर बदले गए नोट, प्लेन से ढोया गया मंत्रियों और कारोबारियों का पैसा

VIDEO: कांग्रेस का दावा- नोटबंदी के बाद मोटे कमीशन पर बदले गए नोट, प्लेन से ढोया गया मंत्रियों और कारोबारियों का पैसा

कांग्रेस ने मंगलवार को यह दावा करते हुए आश्चर्यजनक खुलासा किया कि विमुद्रीकरण की घोषणा के तुरंत बाद विदेश में 3 लाख करोड़ रुपये छापे गए और रिज़र्व बैंक में ले जाने से पहले सैन्य विमान का उपयोग करके दिल्ली के हिंडन एयर बेस पर विमानों को लाया गया।

एक प्रेस कॉन्फ्रेंस को संबोधित करते हुए कांग्रेस के वरिष्ठ नेता कपिल सिब्बल ने कहा कि न केवल नोटबंदी (Demonetization) की घोषणा गरीबों पर ‘सर्जिकल स्ट्राइक’ थी, बल्कि इसने बैंकिंग प्रणाली में हेरफेर करके अमीरों को अपनी बेहिसाब नकदी बदलने का अवसर भी प्रदान किया। यह भारत के इतिहास में सबसे बड़ा घोटाला है। सिब्बल ने कहा, इस घोटाले से किसको फायदा हुआ, इसकी जांच होनी चाहिए।

कपिल सिब्बल ने एक वीडियो भी वीडियो जारी किया, जिसमें दावा किया गया था कि यह नोटबंदी के बाद सरकार द्वारा किए गए मुद्रा विनिमय पर एक पर्दाफाश था। इस वीडियो में कुछ लोग कथित तौर यह दावा करते हुए नजर आ रहे हैं कि नोटबंदी के बाद बीजेपी के कुछ नेताओं की मदद से कमीशन की एवज में नोट बदले गए।

कपिल सिब्बल के मुताबिक, वीडियो में, कैबिनेट सचिवालय में फील्ड असिस्टेंट राहुल रथरेकर ने बताया कि 1 लाख करोड़ की 3 सीरीज डुप्लीकेट में छपी और विदेश में छपे इन करेंसी नोटों को हिंडन एयरफोर्स बेस पर एयरफोर्स ट्रांसपोर्ट प्लेन में कैसे भारत लाया गया? उन्होंने अमित शाह द्वारा नियंत्रित मुद्रा अदला-बदली के विस्तृत लॉजिस्टिक्स के बारे में भी बताया। वह बताते हैं कि कैसे 26 लोगों को विशेष रूप से आरबीआई के साथ समन्वय और पर्यवेक्षण के लिए विभिन्न विभागों से भर्ती किया गया है।

सिब्बल ने दावा किया कि, इस टीम में सभी विभागों के अधिकारी शामिल थे और इसका नेतृत्व अमित शाह ने किया था। उन्होंने कहा कि 1 लाख करोड़ रुपए की तीन सीरीज डुप्लीकेट में छपी और विदेश में छपे इन करेंसी नोटों को हिंडन एयरफोर्स बेस पर एयरफोर्स ट्रांसपोर्ट प्लेन में कैसे भारत लाया गया? यहां से 35 से 40 फीसदी के कमीशन पर पैसे को रिजर्व बैंक भेजा गया।

सिब्बल ने कहा, ऐसा लगता है कि सारी सरकारी एजेंसियों पर इन्होंने ‘कब्जा’ कर रखा है। जब एजेंसी और सरकार एक मंच पर आ जाए, तो लोकतंत्र बहाल नहीं हो सकता। आज वही स्थिति है। एजेंसियों का दुरुपयोग विपक्षियों को निशाना बनाने में किया जा रहा है।

कांग्रेस के स्टिंग वीडियो पर प्रतिक्रिया करते हुए रक्षा मंत्रालय ने एक बयान जारी किया। रक्षा मंत्रालय ने कांग्रेस नेता कपिल सिब्बल के नोटबंदी के दौरान विदेश में कथित तौर पर छपी मुद्रा को हिंडन एयरबेस का उपयोग कर भारतीय वायुसेना के विमान से लाने-ले जाने के दावे को पूरी तरह खारिज किया है।

एक बयान में रक्षा मंत्रालय ने कहा कि आज जारी एक वीडियो में कथित तौर पर किए गए दावे का स्पष्ट रूप से खंडन किया जाता है, जिसमें कहा गया था कि किसी भारतीय वायु सेना के विमान को नोटबंदी के दौरान या उसके बाद मुद्रा ले जाने के लिए विदेश उड़ान भरने का काम सौंपा गया था।

Categories: India

Related Articles