लोकसभा चुनाव के अंतिम फेज के मतदान से पहले मायावती का तीखा हमला, दलितों को गुमराह कर रही BJP

लोकसभा चुनाव के अंतिम फेज के मतदान से पहले मायावती का तीखा हमला, दलितों को गुमराह कर रही BJP

लोकसभा चुनाव (LokSabha Elections 2019) के अंतिम चरण (Last 7th Phase Voting) के मतदान से पहले बहुजन समाज पार्टी (BSP) की राष्ट्रीय अध्यक्ष मायावती (Mayawati) ने बुधवार को भारतीय जनता पार्टी (BJP) सरकार पर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि भाजपा के लोग दलितों को गुमराह कर रहे हैं। मायावती ने पत्रकारों से बातचीत में कहा, ‘केंद्र सरकार दलित विरोधी है। भाजपा और प्रधानमंत्री ने पिछले पांच साल में बसपा को बदनाम करने की हर कोशिश की, लेकिन विफल रहे क्योंकि उनका हिसाब खुली किताब की तरह है। भाजपा के लोग दलितों को गुमराह करने में लगे हुए हैं, इनके बहकावे में आने की जरूरत नहीं है।’

न्यूज एजेंसी आईएएनएस के अनुसार, बेनामी संपत्ति के आरोप के जवाब में मायावती ने कहा, ‘पीएम शालीनताओं को पार कर चुके हैं, वह बसपा को बहनजी की संपत्ति पार्टी कहने में घबराते नहीं हैं। बसपा की राष्ट्रीय अध्यक्ष के पास जो कुछ भी है, वह शुभचिंतकों और समाज के लोगों ने दिया है और सरकार से कुछ भी छिपा नहीं है। सबसे ज्यादा बेनामी संपत्ति वाले लोग भाजपा से जुड़े हैं। इनका हिसाब-किताब कालीन के अंदर छिपा है।’

मायावती ने पीएम के ‘दलित की नहीं दौलत की बेटी’ के आरोप पर कहा कि यह उनका असली चेहरा दिखाता। ये लोग सदियों से पीड़ित शोषित समाज को थोड़ा भी आगे बढ़ना नहीं देखना चाहते। मायावती ने कहा, ‘मैं यूपी की चार बार मुख्यमंत्री रही हूं, लेकिन मेरी शानदार विरासत रही है।’

गौरतलब है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मंगलवार को बलिया में एक जनसभा के दौरान कहा था कि महामिलावटी लोगों के पास नामी और बेनामी संपत्तियों का अंबार लगा है। महामिलावटी लोगों ने राजनीति के नाम पर अपने और अपने रिश्तेदारों के लिए बंगले खड़े किए। एजेंसियां इसका हिसाब ले रही हैं। 

Categories: India

Related Articles

Write a Comment

<