VIDEO: यूपी, बिहार और हरियाणा सहित कई राज्यों में स्ट्रांग रूम से EVM निकाले जाने का वीडियो वायरल होने के बाद मचा हंगामा, प्रियंका गांधी ने ऑडियो के जरिए कार्यकर्ताओं से की यह अपील

VIDEO: यूपी, बिहार और हरियाणा सहित कई राज्यों में स्ट्रांग रूम से EVM निकाले जाने का वीडियो वायरल होने के बाद मचा हंगामा, प्रियंका गांधी ने ऑडियो के जरिए कार्यकर्ताओं से की यह अपील

राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) ने अपने आधिकारिक हैंडल से ट्वीट करते हुए लिखा, “अभी-अभी बिहार के सारण और महाराजगंज लोकसभा क्षेत्र स्ट्रोंग रूम के आस-पास मँडरा रही EVM से भरी एक गाड़ी जो शायद अंदर घुसने के फ़िराक़ में थी उसे राजद-कांग्रेस के कार्यकर्ताओं ने पकड़ा। साथ मे सदर BDO भी थे जिनके पास कोई जबाब नही है। सवाल उठना लाजिमी है? छपरा प्रशासन का कैसा खेल??”

वहीं, उत्तर प्रदेश में आखिरी चरण के मतदान से एक दिन पहले मतदाताओं की उंगुलियों पर जबरन स्याही लगाने का मामला सामने आया है। मामला यूपी की चंदौली लोकसभा सीट का है जहां वोट न देने के बदले पैसे बांटने की बात सामने आई है।

समाचार एजेंसी ANI के मुताबिक, इस संसदीय सीट के तहत पड़ने वाले तारा जीवनपुर गांव के लोगों का कहना है कि मतदान से एक दिन पहले उनकी उंगलियों पर जबरन स्याही लगा दी गई। इसके साथ ही उन्हें 500 रुपये दिए गए। ऐसा करने वाले उनकी गांव के रहने वाले ही तीन लोग थे। उन्होंने कहा, ‘वे लोग भाजपा के थे। उन्होंने हमसे पूछा कि क्या हम पार्टी के लिए वोट डालेंगे। उन्होंने हमें कहा कि अब आप वोट नहीं डाल सकते। किसी को बताना नहीं।’

गौरतलब है कि बिहार के अलावा यूपी के चंदौली में भी ईवीएम से लदे एक वाहन के जिला मुख्यालय आने के बाद यहां पर समाजवादी पार्टी के कार्यकर्ताओं ने विरोध प्रदर्शन किए थे। ऐसी खबरें भी थीं कि यहां पर ईवीएम को बदल दिया गया है। मिर्जापुर से सपा-बसपा के उम्मीदवार अफजाल अंसारी कथित तौर पर घटनास्थल पर पहुंचे और मंडी गेट पर स्ट्रांगरूम के सामने विरोध प्रदर्शन किया। एसपी कार्यकर्ताओं ने आरोप लगाया कि प्रशासन के अधिकारी बीजेपी की शह पर ईवीएम बदल रहे हैं। धरने पर बैठे अंसारी और उनके समर्थकों ने आरोप लगाया कि ईवीएम को स्ट्रांगरूम से बाहर ले जाने की कोशिश की जा रही है।

हरियाणा के फतेहाबाद में भी ईवीएम ले जाने वाले वाहन के समान संदिग्ध आंदोलन की भी सूचना दी गई। हरियाणा कांग्रेस के अध्यक्ष अशोक तंवर ने एक वीडियो साझा किया, जिसमें एक ट्रक को ईवीएम को एक स्ट्रांग रूम के पास जाते हुए दिखाया गया। वीडियो रिपोर्ट में वॉइस-ओवर ने कहा कि ईवीएम से भरा ट्रक हरियाणा के फतेहाबाद में गवर्नमेंट गर्ल्स कॉलेज भूरियाखेड़ा में प्रवेश किया था, जहां ईवीएम को एक स्ट्रांग रूम में रखा गया था।

बता दें कि इससे पहले हरियाणा के फरीदाबाद में एक मतदान केंद्र पर वोटरों को प्रभावित करने की कोशिश के आरोप में भाजपा के एक पोलिंग एजेंट को गिरफ्तार किया गया था। इस घटना का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल होने के बाद भाजपा कार्यकर्ता की गिरफ्तारी हुई थी।

वहीं, पंजाब के जालंधर से भी EVM के साथ कथित तौर पर छेड़खानी का वीडियो सामने आया है।

देश के कई राज्यों में ईवीएम के संदिग्ध वीडियो सामने आने के बाद कांग्रेस की महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने कांग्रेस कार्यकर्ताओं से आह्वान किया कि वे न्‍यूज चैनलों की ओर से प्रसारित एग्जिट पोल में एनडीए को बहुमत मिलने के अनुमान पर ध्‍यान दें। कांग्रेस महासचिव ने कहा कि पार्टी कार्यकर्ता स्‍ट्रॉन्‍ग रूम और मतगणना केंद्रों पर डटे रहें।

कार्यकर्ताओं को जारी ऑडियो संदेश में प्रियंका ने कहा, ‘आप लोग, अफवाहों और एग्जिट पोल से हिम्मत मत हारिए। ये अफवाहें आपका हौसला तोड़ने के लिए फैलाई जा रही हैं। इस बीच आपकी सावधानी और भी महत्वपूर्ण बन जाती है। स्‍ट्रॉन्‍ग रूम और मतगणना केंद्रों पर डटे रहिए और चौकन्ने रहिए।’


Categories: India

Related Articles