तमाम विपक्षी दलों के बाद अब जम्मू-कश्मीर की पूर्व मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती ने भी EVM पर उठाए सवाल

तमाम विपक्षी दलों के बाद अब जम्मू-कश्मीर की पूर्व मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती ने भी EVM पर उठाए सवाल

लोकसभा चुनाव के अंतिम चरण के समापन के कुछ घंटों बाद ही विपक्षी दलों ने एक बार फिर चुनाव आयोग की कार्रवाई और ईवीएम पर सवाल खड़े करने शुरू कर दिए हैं। इसी बीच, अब जम्मू कश्मीर की पूर्व मुख्यमंत्री और पीडीपी प्रमुख महबूबा मुफ्ती ने भी EVM की सुरक्षा को लेकर सवाल खड़े किए हैं।

महबूबा मुफ्ती ने मंगलवार को ट्वीट कर लिखा, ईवीएम स्विच करने की खबरें लगातार आ रही हैं, लेकिन अभी तक चुनाव आयोग की तरफ से कोई सफाई नहीं दी गई है। उन्होंने कहा कि जिस तरह संदिग्ध एग्जिट पोल के बाद ईवीएम से छेड़छाड़ करके इस तरह की लहर बनाने की कोशिश हो रही है, ये एक तरह से दूसरे बालाकोट की तैयारी है।

बता दें कि, लोकसभा चुनाव के अंतिम चरण के समापन के कुछ घंटों बाद ही देश के कई राज्यों से कथित तौर पर ईवीएम से छेड़छाड़ की खबरें सामने आ रहीं है। इतना ही नहीं यूपी, बिहार और हरियाणा सहित कई राज्यों में स्ट्रांग रूम से EVM निकाले जाने का वीडियो सामने आ रहें है, जिसको लेकर हंगामा मच रहा है।

बिहार के सारण जिले में सोमवार शाम आरजेडी और कांग्रेस के कुछ कार्यकर्ताओं ने ईवीएम लेकर जा रही एक गाड़ी को पकड़कर प्रशासन की नियत पर सवाल खड़े किए हैं।

राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) ने अपने आधिकारिक हैंडल से ट्वीट करते हुए लिखा, “अभी-अभी बिहार के सारण और महाराजगंज लोकसभा क्षेत्र स्ट्रोंग रूम के आस-पास मँडरा रही EVM से भरी एक गाड़ी जो शायद अंदर घुसने के फ़िराक़ में थी उसे राजद-कांग्रेस के कार्यकर्ताओं ने पकड़ा। साथ मे सदर BDO भी थे जिनके पास कोई जबाब नही है। सवाल उठना लाजिमी है? छपरा प्रशासन का कैसा खेल??”

Categories: India

Related Articles