आधा हिंदुस्तान भीषण गर्मी की चपेट में, कई जगह पारा 50 के पार

आधा हिंदुस्तान भीषण गर्मी की चपेट में, कई जगह पारा 50 के पार

नई दिल्लीउत्तर से लेकर दक्षिण तक, पहाड़ से लेकर मैदान तक देश के कई राज्य भीषण गर्मी की मार झेल रहे हैं. जम्मू-राजस्थान समेत पूरा उत्तर भारत इन दिनों लू की चपेट में है. राजधानी दिल्ली-एनसीआर में जहां पारा 47 डिग्री को छू रहा है वहीं राजस्थान के श्रीगंगानगर में तो 75 साल का रिकॉर्ड टूट रहा है यहां पारा 50 डिग्री के करीब पहुंच रहा है. मौदानी इलाकों में गर्मी पड़ने पर लोग पहाड़ों का रुख करके हैं लेकिन पहाड़ों की हालत भी अच्छी नहीं है. हिमाचल की राजधानी शिमला में कल मौसम का सबसे गर्म दिन रहा.  यहां अधिकतम तापमान 32 डिग्री रिकॉर्ड किया गया. शिमला के जंगल भी इन दिनों धू-धू करके जल रहे हैं.

दिल्ली-एनसीआर का हाल

राजधानी दिल्ली और एनसीआर में भी पारा 45 डिग्री के ऊपर ही चल रहा है. कल दिल्ली में अधिकतम तापमान 47 डिग्री रहा. मौसम विभाग ने दिल्ली एनसीआर के लिए रेड कलर वार्निंग जारी की है. रेड कलर वार्निंग चार तरह के वार्निंग सिस्टम में सबसे आखिर की है जो मौसम की अत्यधिक विकट परिस्थितियों में जारी की जाती है. गर्मी की वजह से बीमार होकर काफी लोग अस्पताल का रुख कर रहे हैं.

उत्तर प्रदेश- कानपुर

यूपी के कानपुर में भी गर्मी अपना रौद्र रूप दिखा रही है. यहां पारा 46 डिग्री के ऊपर चल रहा है. शुक्रवार को कानपुर में अधिकतम तापमान 46.2 डिग्री दर्ज किया गया. गर्मी से परेशान लोग सड़कों पर निकल तो रहे हैं लेकिन तमाम साधनों का इस्तेमाल करके.

राजस्थान- श्रीगंगानगर

राजस्थान के रेगिस्तान गर्मी में आसमान से बरस रही आग से झुलस रहे हैं. श्रीगंगानगर में पारा 50 डिग्री के करीब पहुंच रहा है.  कल यहां अधिकतम तापमान 49.6 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया.  इससे एक दिन पहले गुरुवार को पारा 49.4 पर थ.  जिस तरह से पारा हर रोज ऊपर चढ़ रहा है उससे आज इसके 50 डिग्री के भी ऊपर पहुंचने की आशंका है. दिन चढ़ते ही सड़कें सुनसान हो जाती हैं.

राजस्थान- चूरू

वहीं, चूरू का तापमान 47 डिग्री के पार पहुंच चुका है. आम जनजीवन हुआ बुरी तरह प्रभावित हुआ है. लू के थपेड़ों ने लोगों को बेहाल कर रखा है. पिछले पांच दिनों से यहां के लोग 45 डिग्री गर्मी का टार्चर झेल रहे हैं. रेल और बस सेवाओं पर भी गर्मी का असर देखने को मिल रहा है. मौसम विभाग के मुताबिक, गर्मी से अभी कोई राहत की उम्मीद नहीं है.

राजस्थान- जोधपुर

जोधपुर में भीषण गर्मी से शहर की सड़कें सूनसान नजर आ रही हैं. इस समय जोधपुर का तापमान 48 डिग्री के आसपास है और इस तापमान में सड़कों पर निकलना बहुत मुश्किल हो रहा है. मौसम विभाग ने ऑरेंज अलर्ट जारी किया है. यहां अमूमन जून के महीने में गर्मी अधिक होती थी लेकिन इस बार मई के महीने से ही गर्मी का प्रकोप देखा गया है. गर्मी के चलते लोग अपने काम पर जाने से भी कतरा रहे हैं.

मध्यप्रदेश- दमोह

मध्यप्रदेश भी गर्मी से झुलस रहा है. दमोह में शुक्रवार को अब तक का सबसे गर्म दिन रहा यहां 46.4 डिग्री तापमान दर्ज हुआ. दिन भर चलने वाली लू की वजह से जनजीवन प्रभावित हो रहा है शुक्रवार को दमोह ने गर्मी के मामले में सारे रिकार्ड तोड़ दिए जब पारा 46 डिग्री को पार कर गया जो कि इस साल अब तक का सबसे गर्म दिन रहा. भीषण गर्मी की वजह से जहां लोग परेशान है वहीं बीमारियां भी लोगों को जकड रही हैं. मौसम वैज्ञानिकों की माने तो अभी आने वाले दिनों में पारा इसी स्तर पर रहेगा और गर्मी का कहर जारी रहेगा.

मध्यप्रदेश- भोपाल

मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल में भीषण गर्मी पड़ रही है. यहां पारा 44 डिग्री तक पहुंच गया है. दोपहर में चलने वाली गर्म हवाओं की वजह से बाहर निकलना मुश्किल हो रहा है. लोग गन्ने का रस और आम पन्ना पीकर लू से बचने की कोशिश कर रहे हैं. आने वाले दिन में भोपाल में गर्मी और बढ़ने की संभावना है.

हिमाचल- शिमला

हिमाचल की राजधानी शिमला का भी गर्मी से बुरा हाल है. कल शिमला में तापमान 32 डिग्री तक पहुंच गया था जो इस सीजन में सबसे ज्यादा है. शिमला में जंगलों में गर्मी के बाद आग भी देखी जा रही है. यहां वन्य जीवों पर मुसीबत टूट पड़ी है. हिमाचल में कई इलाकों के जंगल धू-धू करके जल रहे हैं. जंगलों की आग ने लोगों को बीमार कर दिया है

हिमाचल- उना

हिमाचल के उना में तो कल तापमान 44 दशमलव सात डिग्री रिकॉर्ड किया गया जो पूरे राज्य में सबसे ज्यादा है. मौसम विभाग ने आने वाले एक दो दिनों में गर्मी और बढ़ने की उम्मीद जताई है. उत्तराखंड में अरब सागर से आनेवाले हवाओं की वजह से चार और पांच जून का गरज के साथ बादल बरस सकते हैं.

उत्तराखंड़- देहरादून

उत्तराखंड़ की राजधानी देहरादून में भी चिलचिलाती धूप से लोग परेशान हैं. यहां पारा 44 डिग्री तक पहुंच गया है. दोपहर में गर्म हवाओं के थपेड़ों से बचने के लिए लोग छाते लेकर और चेहरे पर कपड़े लपेट कर बाहर निकल रहे हैं. मौसम विभाग ने आज देहरादून में हल्की बारिश की संभावना जताई है. उम्मीद है कि इस हफ्ते अच्छी बारिश होने से पारा नीचे आएगा और लोगों को गर्मी से राहत मिलेगी.

दक्षिण भारत

दक्षिण भारत के सबसे बड़े राज्य तमिलनाडु की राजधानी चेन्नई में भीषण गर्मी से पानी की भारी किल्लत हो गई है. बोरवेल और पानी के दूसरे स्त्रोतों में जलस्तर घटने की वजह से लोग बोतल बंद पानी खरीदने को मजबूर हैं. पाइप से घरों में पहुंचने वाले पानी की भी राशनिंग हो रही है, जिससे बोतल बंद पानी की डिमांड बढ़ गया है. सुबह के 10 बजने वाले हैं और इस वक्त चेन्नई में पारा 34 डिग्री तक पहुंच चुका है.

गर्मी से कैसे बचाव करें?

गर्मी से क्या परेशानियां होती हैं और इसका कैसे बचाव करें?

गर्मी में लोगों को कई तरह की परेशानियां होती हैं. ज्यादा गर्मी और धूप से लोगों को चक्कर आना, बेहोशी, डिहाइड्रेशन और हड्डियों में अकड़न जैसी दिक्कत होने लगती है. गर्मी से बचने के लिए लोगों को घर से बाहर नहीं निकलना चाहिए. अगर निकलते हैं तो छाता साथ में रखें और साथ-साथ चेहरे और बदन को पूरी तरह से ढक कर निकलें.

बच्चे नाज़ुक होते हैं, उनपर गर्मी का असर बहुत जल्दी पड़ता है. ऐसे में बच्चों को धूप में निकलने से बचाना चाहिए. खाने पीने की चीजों में तरल पदार्थों का इस्तेमाल ज्यादा करना चाहिए. अगर लू लगती है तो ऐसे में तुरंत डॉक्टर से सलाह लें.

Categories: India

Related Articles