लापता विमान एएन-32 का आठवें दिन भी कोई सुराग नहीं

लापता विमान एएन-32 का आठवें दिन भी कोई सुराग नहीं

नई दिल्ली। वायुसेना के लापता विमान एएन-32 का आठवें दिन भी कोई सुराग नहीं मिला है। यह विमान 03 जून को अरुणाचल प्रदेश के सुदूर मेंचुका इलाके से उड़ान भरने के बाद गायब है। इस विमान में कुल 13 लोग सवार हैं। इसमें चालक दल के आठ सदस्य और पांच यात्री शामिल हैं।

विमान अरुणाचल प्रदेश के मेचुका एयर फील्ड के ऊपर से लापता हुआ था। यह क्षेत्र चीन सीमा के काफी करीब है। भारतीय वायुसेना ने फिलहाल विमान की खोज के लिए एक सुखोई-30, सी-130 स्पेशल ऑप्स एयरक्राफ्ट, एएन-32, दो एमआई-17 हेलिकॉप्टर और सेना के दो एएलएच हेलिकॉप्टर लगाए हैं।

शिलॉन्ग में तैनात वायुसेना के प्रवक्ता रत्नाकर सिंह ने कहा कि सोमवार को वायुसेना, थलसेना, जिला प्रशासन एवं स्थानीय लोगों की तरफ से चलाए गए तलाश अभियान के बावजूद लापता विमान का अता-पता नहीं चल सका।

प्रवक्ता ने कहा, ‘दिन में हेलीकॉप्टर और सी130जे विमान हवाई तलाश अभियान चला रहे थे जबकि यूएवी और सी-130जे विमान के जरिए रात के वक्त इसे जारी रखा जाएगा ताकि लापता विमान का पता लगाया जा सके।’ उन्होंने कहा कि भारतीय थलसेना, आईटीबीपी, राज्य पुलिस और स्थानीय लोगों की टीमों ने पर्वतीय इलाके में पूरे जोर-शोर से अभियान जारी रखा।

विमान के लापता होने की खबर मिलने के बाद ही रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने वायुसेना के उप प्रमुख से बात कर सर्च ऑपरेशन के बारे में जानकारी ली। उन्होंने ट्वीट किया, ‘कुछ घंटों से लापता IAF के AN-32 एयरक्राफ्ट के बारे में एयर फोर्स के वाइस चीफ एयर मार्शल राकेश सिंह भदौरिया से बात की है। उन्होंने लापता विमान का पता लगाने के लिए इंडियन एयर फोर्स की तरफ से उठाए गए कदमों की जानकारी दी। मैं विमान में सवार सभी यात्रियों की सुरक्षा के लिए प्रार्थना करता हूं।’

इससे पहले भी 22 जुलाई 2016 को भारतीय वायुसेना का एयरक्राफ्ट एएन-32 लापता हो गया था। इसमें 29 लोग सवार थे। एयरक्राफ्ट चेन्नई से पोर्ट-ब्लेयर की ओर जा रहा था। बंगाल की खाड़ी के बाद इसका संपर्क टूट गया।

Categories: India

Related Articles