वडोदरा: होटल के सेप्टिक टैंक साफ करने उतरे 4 सफाई कर्मचारियों समेत 7 लोगों की मौत

वडोदरा: होटल के सेप्टिक टैंक साफ करने उतरे 4 सफाई कर्मचारियों समेत 7 लोगों की मौत

गुजरात में वडोदरा के फार्तिकुई गांव में एक होटल के सेप्टिक टैंक की सफाई करने वाले चार सफाई कर्मचारियों सहित सात लोगों की मौत हो गई है। बताया जा रहा है कि ये सफाई कर्मचारी शनिवार को एक होटल के गटर में सफाई कर रहे थे, तभी कथित तौर पर दम घुटने की वजह से इन सातों की मौत हो गई। मृतकों में सफाईकर्मियों के साथ-साथ होटेल के कर्मचारी भी शामिल है। पुलिस ने होटल मालिक के खिलाफ लापरवाही के कारण मौत का केस दर्ज कर मामले की जांच शुरु कर दी है।

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, वडोदरा के फार्तिकुई गांव के निकट दर्शन होटल में महेश पतनवडिया, अशोक हरिजन, बृजेश हरिजन और महेश हरिजन सेप्टिक टैंक की सफाई करने के लिए पहुंचे थे। होटेल में काम करने वाले विजय चौधरी, सहदेव वसावा और अजय वसावा उनकी मदद कर रहे थे।

पुलिस ने बताया है कि सबसे पहले पतनवडिया टैंक में दाखिल हुए। काफी देर बाद जब वह वापस नहीं आया और कोई जवाब भी नहीं दिया तो पहले अशोक, फिर बृजेश और महेश अंदर गए। जब चारों बाहर नहीं आए तो चौधरी, सहदेव और अजय उनकी मदद को अंदर गए लेकिन वे भी बेहोश होकर अंदर गिर गए।

जब सातों लोग बाहर नहीं आए तो दाभोई नगर पालिका और स्थानीय पुलिस को सूचना दी गई। नगर पालिका के पास जरूरी उपकरण नहीं होने के कारण वडोदरा दमकल विभाग से मदद मांगी गई। फायर ऑफिसर निकुंज आजाद ने बताया, ‘टैंक के अंदर गैस का प्रेशर बहुत ज्यादा था जिस कारण सभी सातों की मौत हो गई। किसी तरह हम उनके शव निकाल सके।’

बता दें कि, सीवर सफाई के दौरान हादसों में मजदूरों की दर्दनाक मौतों की खबरें लगातार आ रही हैं। दिल्ली सहित देश के कई राज्यों में अक्सर सीवर या टैंक सफाई के दौरान लोगों की मौत होने की खबरें सामने आती रहती हैं।

Categories: India
Tags: Gujarat, Vadodara

Related Articles