टोल प्लाजा पर सरेआम फायरिंग करने के मामले में BJP सांसद राम शंकर कठेरिया के 2 सुरक्षाकर्मी गिरफ्तार, टोलकर्मियों से की थी मारपीट

टोल प्लाजा पर सरेआम फायरिंग करने के मामले में BJP सांसद राम शंकर कठेरिया के 2 सुरक्षाकर्मी गिरफ्तार, टोलकर्मियों से की थी मारपीट

उत्तर प्रदेश के आगरा टोल प्लाजा पर फायरिंग के मामले में पुलिस ने बड़ी कार्रवाई की है। आगरा जिले की पुलिस ने पिछले दिनों छह जुलाई को एक टोल प्लाजा पर कथित रूप से फायरिंग करने के लिए भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के लोकसभा सदस्य राम शंकर कठेरिया के दो सुरक्षागार्डों को गिरफ्तार किया है। दोनों सिपाही पहले ही सस्पेंड किए जा चुके हैं। आरोप है कि इन दोनों सुरक्षाकर्मियों ने टोल पर मारपीट के बाद फायरिंग की थी।

सर्कल ऑफिसर अतुल सोनकर और एत्मादपुर के इंस्पेक्टर विकास तोमर ने समाचार एजेंसी आईएएनएस से कहा कि दोनों आरोपियों विपिन चौधरी और पिंकू उपाध्याय को मंगलवार रात टूंडला सीमा के पास से गिरफ्तार किया गया। सीसीटीवी फुटेज के आधार पर एफआईआर दर्ज की गई है जिसमें सांसद के सुरक्षा गार्ड टोलकर्मियों के साथ दुर्व्यवहार व मारपीट करते नजर आ रहे हैं। कठेरिया एससी/एसटी आयोग के अध्यक्ष भी हैं।

कठेरिया ने यह कहते हुए अपना बचाव करने की कोशिश की कि उनकी पार्टी पर कुछ अज्ञात हमलावरों ने हमला किया था। पिछले हफ्ते की इस घटना के बाद गार्डो को निलंबित कर दिया गया था। पिछले दिनों आगरा में इनर रिंग रोड पर एक टोल बूथ से सीसीटीवी फुटेज सोशल मीडिया पर वायरल हुआ, जिसमें इटावा से सांसद कठेरिया के सुरक्षागार्डों को एक टोलकर्मी की पिटाई करते और हवा में फायरिंग करते देखा गया था।

इस पूरे मामले पर सफाई देते हुए रामशंकर कठेरिया ने कहा था कि टोल प्लाजा पर जो घटना हुई, उसमें मैं बीच-बचाव कर रहा था और टोलकर्मियों का लाठी-डंडे लेकर आने का फुटेज नहीं दिखाया गया। कुछ लोग पुलिसकर्मी से रिवाल्वर छीनने की कोशिश कर रहे थे। इसके बाद सुरक्षाकर्मी ने केवल आत्मरक्षा में फायर की थी लेकिन यह वीडियो नहीं दिखाया जा रहा है।

Categories: Crime

Related Articles

Write a Comment

<