सुप्रीम कोर्ट की वरिष्ठ वकील इंदिरा जयसिंह और आनंद ग्रोवर के घर-दफ्तर पर सीबीआई का छापा

सुप्रीम कोर्ट की वरिष्ठ वकील इंदिरा जयसिंह और आनंद ग्रोवर के घर-दफ्तर पर सीबीआई का छापा

सुप्रीम कोर्ट की वरिष्ठ वकील इंदिरा जयसिंह और उनके पति वकील आनंद ग्रोवर और सामाजिक कार्यकर्ता इंदु आनंद के घर और ठिकानों पर सीबीआई की टीम छापेमारी कर रही है। इससे पहले इंदिरा जयसिंह के एनजीओ पर फेरा के उल्लंघन का आरोप लगाते हुए कार्रवाई की गई थी। इस मामले में वर्तन निदेशालय ने फंड के गलत इस्तेमाल करने का आरोप लगाया था।

खबरों के मुताबिक, सीबीआई की टीम इंदिरा जयसिंह के निजामुद्दीन स्थित घर पर छापे मार रही है। मानवाधिकार कार्यकर्ता तीस्ता सीतलवाड़ के मुताबिक, यह छापे इंदिरा जयसिंह के दिल्ली और मुंबई स्थिति ठिकानों पर भी पड़े हैं। बताया जा रहा है कि गुरुवार सुबह करीब 8.15 बजे सीबीआई की टीम ने इंदिरा जयसिंह और उनके पति वकील आनंद के ठिकानों पर छापे मारने शुरू किए थे। तीस्ता ने अनुसार, उन्होंने दोनों स्थानों पर अपने वकील भेज दिए हैं और वह छापों से संबंधित कानूनी प्रक्रिया का जायजा ले रहे हैं। तीस्ता सीतलवाड़ ने सीबीआई द्वारा की गई इस छापेमारी की कड़ी निंदा की। उन्होंने इस कार्रवाई को केंद्र सरकार की बदले की कार्रवाई बताया।

बताया जाता है कि सुप्रीम कोर्ट की वरिष्ठ वकील काफी फहले से केंद्र सरकार के निशाने पर थीं। वे तभी केंद्र के निशाने पर आ गई थीं, जब उन्होंने जज लोया मामले में फिर से जांच के लिए सुप्रीम कोर्ट में दायर याचिका के पक्ष में बहस की थी। कहा जाता है कि जज लोया मामले में सत्ता से जुड़े कई लोगों पर शक की सुई है। कहा जाता है कि अगर जज लोया मामले की जांच शुरू होने से सत्ता से जुड़े कुछ लोगों पर खतरा था। हालांकि सुप्रीम कोर्ट ने जज लोया के मौत मामले की जांच की मांग वाली याचिका को रद्द कर दिया था। जज लोया केस के अलावा वरिष्ठ वकील इंदिरा जयसिंह कई मामलों में गुजरात सरकार के खिलाफ मोर्चा खोल चुकी हैं।

Categories: India

Related Articles