यूपी: ‘जय श्रीराम’ नहीं कहने पर मुस्लिम किशोर को जिंदा जलाने की कोशिश का आरोप, गंंभीर हालत में कराया गया भर्ती

यूपी: ‘जय श्रीराम’ नहीं कहने पर मुस्लिम किशोर को जिंदा जलाने की कोशिश का आरोप, गंंभीर हालत में कराया गया भर्ती

बीजेपी शासित राज्यों में भीड़ द्वारा हिंसा का मामला थमने का नाम नहीं ले रहा है। ताजा माममा उत्तर प्रदेश के चंदौली में सामने आया है। जहां 17 साल के किशोर को जिंदा जलाने की कोशिश का आरोप लगा है। नाबालिग को गंभीर हालत में वाराणसी के कबीर चौरा अस्पताल में रेफर किया गया है, जहां उसका इलाज जारी है।

पाड़ित का आरोप है कि उसने ‘जय श्रीराम’ का नारा लगाने से इनकार कर दिया था। पीड़ित के मुताबिक, चार लोगों ने पहले उसे अगवा किया और उसके ऊपर केरोसिन का तेल छिड़कर आग के हवाले कर दिया। नाबालिग आग से 45 प्रतिशत झुलस गया है। गंभीर हालत में नाबालिक का अस्पताल में इलाज जारी है।

वहीं, पुलिस केस दर्ज कर पूरे मामले की जांच कर रही है। पुलिस ने कहा, “नाबालिग जली हुई हालत में घर पहुंचा था। सूचना मिलने के बाद पुलिस वहां पहुंची। चंदौली के मनराज पुर गांव में कुछ लड़के थे, जो पीड़ित को दौड़ते हुए खेत में ले गए और आग लगा दी।”

इससे पहले शनिवार को अमेठी में सेना से रिटायर 64 साल के कैप्टन की पीट-पीटकर हत्या कर दी गई थी। सहायक पुलिस अधीक्षक दयाराम ने कहा कि अमानउल्ला और उनकी पत्नी अपने घर में थे, जब लोगों के एक समूह ने उन पर डंडों से हमला कर दिया। पूर्व अधिकारी को सिर पर चोट लगी और उनकी मौके पर ही मौत हो गई। उनके बेटे ने कहा कि जब यह घटना हुई तो कोई दूसरा सदस्य घर में नहीं था। एएसपी ने कहा कि पूरे मामले की जांच की जा रही है।

Categories: Crime

Related Articles