प्रियंका गांधी ने सोनभद्र नरसंहार मामले में किया ट्वीट, बोलीं- आदिवासी बहनों-भाइयों से बात करके यह स्पष्ट हुआ कि…

प्रियंका गांधी ने सोनभद्र नरसंहार मामले में किया ट्वीट, बोलीं- आदिवासी बहनों-भाइयों से बात करके यह स्पष्ट हुआ कि…

नई दिल्ली: 

कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा मंगलवार को उत्तर प्रदेश के सोनभद्र स्थित उम्भा गांव पहुंची, जहां उन 10 गोंड आदिवासियों के परिजन से मुलाकात की जो पिछले महीने 17 जुलाई को जमीन के विवाद को लेकर हुई गोलीबारी में मारे गये थे. परिजन से मुलाकात करने के बाद प्रियंका गांधी ने दूसरे दिन बुधवार को अपने आधिकारिक ट्विटर अकाउंट पर दो ट्वीट किए. उन्होंने अपने ट्वीट में सोनभद्र के उम्भा गांव में आदिवासी लोगों से बातचीत करने के बाद तीन भागों में स्पष्टता जाहिर की.

प्रियंका गांधी ने ट्विटर पर लिखा, ”सोनभद्र में उभ्भा गांव के आदिवासी बहनों-भाइयों से बात करके यह स्पष्ट हुआ कि- 
1. उन्हें अपनी जमीन का मालिकाना हक जब तक नहीं मिलेगा तब तक वह असुरक्षित रहेंगे और उन्हें प्रताड़ित किया जाएगा.
2. आरोपी प्रधान द्वारा गांव की महिलाओं और पुरुषों पर दर्ज कराए मुकदमें और उन पर प्रशासन द्वारा लगाया गया गुंडा ऐक्ट रद्द किया जाना चाहिए.
3. अभी तक गांव में पुलिस चौकी नहीं लगी. उभ्भा के निवासी अभी भी दहशत में जी रहे हैं.

बता दें कि प्रियंका गांधी घर आकर मिलने का वादा निभाने के लिये, हाल में सामूहिक हत्याकांड के गवाह बने उत्तर प्रदेश के सोनभद्र स्थित उम्भा गांव पहुंची. उत्तर प्रदेश की भाजपा सरकार ने प्रियंका की इस यात्रा को राजनीतिक स्टंट करार देते हुए कहा कि कांग्रेस महासचिव को सोनभद्र में अपनी ही पार्टी के नेताओं के पूर्व के कृत्यों का पश्चात्ताप करना चाहिये.

मंगलवार को उन्होंने ट्वीट कर कहा ”चुनार के किले पर मुझसे मिलने आये उम्भा गांव के पीड़ित परिवारों के सदस्यों से मैंने वादा किया था कि मैं उनके गांव आऊंगी. आज मैं उम्भा गांव के बहनों-भाइयों और बच्चों से मिलने, उनका हालचाल सुनने-देखने, उनका संघर्ष साझा करने सोनभद्र जा रही हूं.”

Categories: Politics

Related Articles

Write a Comment

<