उत्तर प्रदेश: दलित अधिकारी ने घर में लगाई फांसी, सुसाइड नोट में अपमान और मानसिक उत्पीड़न का लगाया आरोप

उत्तर प्रदेश: दलित अधिकारी ने घर में लगाई फांसी, सुसाइड नोट में अपमान और मानसिक उत्पीड़न का लगाया आरोप

उत्तर प्रदेश में एक दलित ग्राम विकास अधिकारी ने बुधवार रात अपने आवास पर फांसी लगाकर सुसाइड कर लिया। उसके सुसाइड नोट में मानसिक उत्पीड़न के आरोप लगाये गये हैं। पुलिस ने बताया कि मृतक त्रिवेन्द्र कुमार गौतम (23) ने अपने सुसाइड नोट में अपमान और मानसिक उत्पीड़न का आरोप लगाया है।

गौतम का शव शिवसागर कॉलोनी स्थित किराये के घर में गुरूवार को बरामद किया गया। पुलिस के मुताबिक गौतम ने सुसाइड नोट में किसानों के एक राजनीतिक संगठन के जिलाध्यक्ष, एक गांव के ग्राम प्रधान और एक ग्राम प्रधान के पुत्र पर अपमानित करने और मानसिक उत्पीड़न करने का आरोप लगाया है।

गौतम का शव मिलने के बाद एक वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो गया, जिसमें उसे कथित रूप से किसान यूनियन के नेताओं द्वारा सार्वजनिक तौर पर अपमानित करते हुए देखा जा सकता है।

अपर पुलिस अधीक्षक शैलेन्द्र लाल ने बताया कि एससी-एसटी अधिनियम सहित विभिन्न धाराओं में मामला दर्ज कर लिया गया है। 

Categories: Crime

Related Articles

Write a Comment

<