Opinion

Back to homepage
Opinion

अखिलेश यादव के शिलापटों को तोड़, यूपी योगी जी के नेतृत्व में विकास की ओर……

बस अंतर सिर्फ सोच का है, किसी को निर्माण पसन्द है तो किसी को विध्वंश। समाज मे दोनों तरह की धाराएं मौजूद हैं, ये रहनी भी चाहिए क्योंकि यदि विध्वंश

Opinion

अर्थव्यवस्था पर चारों खाने चित्त हुई भाजपा, क्या बचने के लिए फिर रोबर्ट वाड्रा का दरवाजा खटखटाएंगे?

-अरुण कुमार सोशल मीडिया पर एक कहावत मशहूर है, आम लोगों पर संकट आता है तो हनुमान जी को याद करते हैं और बीजेपी पर संकट आता है तो रोबर्ट

Opinion

देश के न्यायालयों से मुसलमानों की खत्म हो रही हैं उम्मीदें?

भारत की अदालतों में मुसलमानों के लिए न्याय नहीं है , यह 1 नहीं 100 बार सिद्ध हो चुका है , सिर्फ़ अदालतें ही नहीं , व्यवस्था में भी मुसलमानों

Opinion

चारा घोटाले के अलावा बाकी सबको पवित्र मानिए और गोबर में मुंह डुबा कर मर जाइए..!

बिहार के सृजन घोटाले की जो भयानक शक्ल सामने आ रही है, अगर उसके साए में संघी-भाजपाई, सुशील कुमार मोदी और उनके मातहत सोचने-समझने वाले नीतीश कुमार नहीं होते तो

Opinion

ढाई साल में चार बार रो चुके हैं

  हैदराबाद। अपने भाषणों में सवा सौ करोड़ देशवासियों को संबोधित करते हुए मोदी को आपने कई बार सुना होगा। 2014 के लोकसभा इलेक्शन से लेकर प्रधानमंत्री बनने तक नरेंद्र

Opinion

उत्तर प्रदेश चुनाव समीक्षा: गोरखपुर का गोरखनाथ से आदित्यनाथ का सफर

ज़िन्दगी में कुछ घटनाएं ऐसी होती है जो हमें इतिहास के पन्ने पलटने  पर मज़बूर कर देता है| रविवार को जब दोपर के २ बजे लखनऊ में योगी आदित्यनाथ उत्तरप्रदेश

Opinion

कहाँ गया मोदी जी का 1.25 लाख करोड़ वाला बिहार पैकेज?

  प्रधानमंत्री मोदी अपने भाषणों के लिए जाने जाते हैं। मोदी उन राजनीतिक हस्तियों में से हैं जिनका भाषण देने का तरीका लोगों को बहुत दिचस्पलगता है। जब मोदी भाषण

Opinion

एग्जिट पोल एक भद्दा मजाक है|

  कल शाम जैसे ही टीवी पर न्यूज़ चैनल देखा, लगा मानो सब के सब कल के चुनाव के नतीजे पहले से ही जानते है| वरनाइतना आश्वस्त तो उन पार्टी

Opinion

फिर से चुराई मोदी सरकार ने UPA सरकार की पुरानी योजना- UPA के समय भी मिलते थे गर्भवती महिला को 6000 रूपये

31 दिसम्बर 2016 को जब पूरा देश इंतज़ार कर रहा था कि प्रधानमंत्री आज पूरे देश को हिसाब देंगे कि काला धन कितना वापस आयाऔर नोटबंदी से कितना फायदा हुआ,

Opinion

भाजपा शाषित राज्यों में उत्तर प्रदेश से काफी ज़्यादा ख़राब है क्राइम रेट

  उत्तर प्रदेश में अपनी रैली के दौरान प्रधानमंत्री मोदी ने 5 फरवरी 2017 को ऐलान किया कि उत्तर प्रदेश क्राइम करने की श्रेणी में नंबर 1 पर आ गया