Opinion

Back to homepage
Opinion

क्या Paytm के ज़रिए चीनी कंपनी को फायदा?

लगभग दो दर्जन चीनी कंपनी अलीबाबा के कर्मचारी वर्तमान में नोएडा में Paytm के कार्यालय में डेरा डाले हुए हैं l वह कुछ वरिष्ठ स्थानीयअधिकारियों के साथ मिलकर अलीबाबा के ई-कॉमर्स पोर्टल को भारतीय कंपनी के बाजार में परिवर्तित करने के लिए काम कर रहे l मामले से परिचित दो लोगों ने कहा, चीनी अधिकारी पेटीएम के ई-कॉमर्स साइट के साथ अलीबाबा कंपनी के डिजिटल मंच को मिलाने का कामकर रहें हैं l एक अधिकारी का यह भी कहना था कि चीनी कंपनी अलीबाबा और उसकी सहयोगी कंपनी का Paytm कंपनी में 40% की हिस्सेदारीहै l हालाँकि Paytm ने ऐसे किसी भी गठबंधन की संभावना से इनकार किया है और यह बयान दिया है कि दोनो कंपनिया एक दूसरे के दफ़्तर मेंअक्सर जाया करती हैं ताकि एक दूसरे का सुझाव मिल सके l यह मामला इसीलिए भी गंभीर हो जाता है क्योंकि इस साप्ताह नोट बंद करने के सरकार के फ़ैसले से Paytm कंपनी को काफ़ी फायदा हुआ है l पैसा जेब में ना होने के कारण काफ़ी लोगों ने Paytm के द्वारा दी गई कॅशलेस भुक्तांन करने की सुविधा का इस्तेमाल किया है l Paytm कंपनी नेतुरंत इसका फायदा उठाते हुए प्रधानमंत्री की तस्वीर के साथ अख़बार मे एड भी दिया था जिसकी काफ़ी आलोचना भी की गई थी l पर अगर इसकेज़रिए किसी चीनी कंपनी को फायदा पहुचता है ख़ासकर उस समय जब ग़रीब आदमी पूरा दिन बॅंक की लाइन के धक्के खा रहा है तो यह काफ़ीचिंता की बात है l इस खबर में कितनी सच्चाई है यह तो वक्त के साथ सामने आ ही जाएगा पर चीनी कंपनी का Paytm के दफ़्तर में होना कुछ तोइशारा करता ही है l Data source- Times of India, 3 November 2016  

Opinion

क्या फिर ग़रीब को ही मारा सरकार ने? अमीर खुश और ग़रीब दहशत में?

निशांत परसो आधी रात को सरकार ने 500- 1000 के नोट पर पाबंदी लगा दी l कल एक प्रतिष्टित अँग्रेज़ी अख़बार उठाया तो यह पाया कि एक बड़ी कंपनी जो

Opinion चुनावी दंगल

राहुल गाँधी की किसान यात्रा और उत्तर प्रदेश का चुनावी दंगल|

  पंजाब और उत्तर प्रदेश के चुनाव जैसे जैसे नज़दीक आ रहे किसान का मुद्दा चर्चा का विषय बनता जा रहा है| गरीब किसानों के लिए ऋण माफी, स्वामीनाथन रिपोर्ट,

Opinion चुनावी दंगल

यू. पी. में 2013 से धीमी आँच पर पकाई जा रही है सांप्रदायिकता की खिचड़ी?

उत्तर प्रदेश में जो आज के दौर में संप्रदायिक घटनाए सामने आती हैं उनका स्वरूप 1992 की घटना से बहुत अलग है l उस समय जो नारा था “एक धक्का

Opinion चुनावी दंगल

सपा की महाभारत से क्या मिलेगा कॉंग्रेस और बसपा को फायदा ?

यू पी की चुनावी महाभारत के बीच एक अलग महाभारत सपा के बीच मे चल रही है जो अब तेज़ होती दिख रही है l मुलायम ने दो दिन पहले

Opinion चुनावी दंगल

मैं मेरी पत्नी और वो:मुलायम सिंह यादव की अमर प्रेम कहानी!

अबिनाश चौधरी  निश्चित तौर पर प्रखर परिवारवादी और समाजवादी पार्टी सुप्रीमो मुलायम सिंह यादव अपने राजनीतिक जीवन के सबसे बड़े संकट से गुज़र रहे हैं। देश के सबसे बड़े राजनीतिक परिवार

Opinion

India’s Development model and its potential crisis

विश्व में आज लोकतंत्र दो समस्याओं से जूझ रहा है~ लोगों का राजनीति से रूचि ख़त्म हो रहा है और राजनीति और नेता के प्रति बढ़ता गुस्सा। 20वीं सदी में

Opinion

राहुल गाँधी पर जूता फेंके जाने की घटना, बीजेपी और RSS की परेशानी और राहुल को मिल रहे जनसमर्थन की निशानी है?

उत्तर प्रदेश के सीतापुर में जारी एक रोडशो के दौरान सोमवार को कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी पर जूता फेंके जाने की ख़बर है. कांग्रेस उपाध्यक्ष पर जूता फेंकने वाले 25-वर्षीय

Opinion

वादे या जुमले ?

भारतीय जनता पार्टी की राष्ट्रीय परिषद की बैठक वैसे तो पार्टी के क्रिया-कल्पों पर केंद्रित होना चाहिए था, मगर प्रधानमंत्री दबाव था कि वह उरी हमले को लेकर कुछ ठोस

Opinion

स्वच्छ भारत अभियान पर मोदी सरकार ने खुद फेरा झाड़ू

निशांत जब प्रधानमंत्री मोदी ने सत्ता संभालते ही महात्मा गाँधी को श्रधांजलि देते हुए उनके नाम पर स्वच्छ भारत अभियान की शुरूआत की तब ऐसा प्रतीत होने लगा था कि